राज कॉमिक्स ट्रेडिंग कार्ड (Raj Comics Trading Card)

राज कॉमिक्स की ख़ासियत ये रही की इन्होंने वक़्त दर वक़्त पाठकों में उत्सुकता बना के रखी, कहानियों का इनमें बहोत महत्वपूर्ण हाँथ होता था और दूसरा आर्टवर्क का, लेकिन उसके अलावा भी कई और ऐसे मापदंड है जिन्हें दरकिनार नहीं किया जा सकता. ‘नागराज नावल्टीज’ की शुरुवात भी इन्हीं कारणों से की गई ताकि पाठकों को कॉमिक्स के साथ साथ अन्य वस्तुओं से भी जोड़ा जा सके, अंग्रजी में इसे ‘मर्चेनडॉईजिंग’ भी कहते है. ‘नोवेल्टी’ मर्चेनडॉईजिंग से थोड़ा अलग है लेकिन प्रकार वैसा ही है, ट्रेडिंग कार्ड भी नावल्टीज की श्रेणी में ही आता है, मेरे ख्याल से वर्ष 1996 में ट्रेडिंग कार्ड कॉमिक्स विशेषांक के साथ मुफ्त में दिया जाता था और बाद में राज कॉमिक्स द्वारा इसे अलग से खरीदने की व्यवस्था भी कराई गई. मेरा सबसे पहल ट्रेडिंग कार्ड भोकाल की कॉमिक्स ‘शादी नहीं होगी’ से मुझे प्राप्त हुआ था, लेकिन इसकी शुरुवात राज कॉमिक्स ने नागराज की ‘अब मरेगा परमाणु’ सीरीज के कॉमिक्स विशेषांक “अब मरेगा परमाणु” स्पेशल संख्या #59 से ही कर दी थी और बाद में ‘खजाना’ सीरीज के कॉमिक्स विशेषांक “खजाना” स्पेशल संख्या #60 से लगभग हर विशेषांक के साथ इसे मुफ़्त दिया जाने लगा.

नागराज नावल्टीज

वर्ष 1996 ‘नागराज ईयर’ रूप में भी जाना जाता है और राज कॉमिक्स ने प्रयोग करने में कोई कसर नहीं छोड़ी, आज भले ही पाठक राज कॉमिक्स के उपर सवाल खड़े करते हों की कॉमिक्स समय से नहीं आ पाती लेकिन हर काम जस्बात से नहीं किये जाते कुछ बिज़नेस को ध्यान में रखकर भी किये जाते है (हालाँकि ये भी तर्क वितर्क योग्य है). खैर, कॉमिक्स बाइट पर हम लोग इस बात पे चर्चा करते रहेंगे की इन प्रयोगों के कारण ही राज कॉमिक्स 4 दशकों तक पाठकों की नब्ज़ पकड़ रखी है और उम्मीद है ये रिश्ता आगे भी कायम रहेगा.

नागराज – बुनियादी जानकारी
आर्टवर्क: प्रताप मुल्लिक जी
साभार: राज कॉमिक्स

ट्रेडिंग कार्ड (Trading Card): बेहद आकर्षक साज सज्जा में ये ट्रेडिंग कार्ड प्रकाशित किये गए थे, इन पर स्वर्गीय प्रताप मुल्लिक जी, अनुपम सिन्हा जी, धीरज वर्मा जी, मनु जी, नरेश जी और दिलीप चौबे जी के आर्टवर्क थे. इन ट्रेडिंग कार्ड्स की ख़ास बात ये भी इनमें हमारे प्रिय सुपर हीरोज की बुनियादी जानकारी दी रहती थी या किसी विशेष किरदार जैसे मित्र (कपालकुण्डला/धनंजय) या अपराधी (रोबो/नागपाशा) की, इनके ‘2 इन 1’ हीरोज वाले ट्रेडिंग कार्ड (तिरंगा/परमाणु – नागराज/ध्रुव – स्टील/डोगा) में उनके कॉमिक्स की जानकारी या भेड़िया के स्पेशल जंगली जानवर विशेष वाले जानकारीपूर्ण तथ्य (जैसे ‘कैरेकल’ – एक प्रकार की जंगली बिल्ली). इसके अलवा एक अन्य वर्ग भी था इलू कार्ड्स का जिसमें हमारे हीरोज अपनी प्रेयसी के साथ दिखाई पड़ते थे – नागराज-विसर्पी/ध्रुव-नताशा/भेड़िया-जेन.

इलू कार्ड – ध्रुव और नताशा
आर्टवर्क: धीरज वर्मा जी
साभार: राज कॉमिक्स

ट्रेडिंग कार्ड्स की कुल संख्या पर संशय है लेकिन ये 230+ के आस पास छापे गए थे और इनका मूल्य भी काफ़ी कम ही था (मात्र 2 रूपए), अभी हाल के ही वक़्त में राज कॉमिक्स ने इन्हें फिर से छापने का जिक्र अपने ऑफिसियल ग्रुप में किया था और कुछ कार्ड्स नए सेट के साथ मुफ़्त में भी बांटे गए थे (जैसे ‘मुगांम्बो’ का कार्ड – भेड़िया सीरीज का किरदार).

44 नए ट्रेडिंग कार्ड्स – वर्ष 1998 (शक्ति वर्ष)
साभार: राज कॉमिक्स

समय के साथ ट्रेडिंग कार्ड की जगह दुसरे गिफ्ट आइटम्स ने ले ली, आज भी पुराने पाठक आपको ट्रेडिंग कार्ड की खोज करते मिल जायेंगे. इसकी खास वजह है इनका विंटेज आर्टवर्क और पाठकों का नब्बे के दौर के प्रति लगाव, शायद आज का आर्टवर्क आज की दिन के हिसाब से सही है लेकिन इस बात में कोई दो राय नहीं की पुराने आर्टवर्क के कायल हर कोई है. उम्मीद करता हूँ ट्रेडिंग कार्ड्स की ये जानकारी आपको अच्छी लगी होगी, बस यूँ ही हमें प्रोत्साहित करते रहें, आभार – कॉमिक्स बाइट!

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: