लॉकडाउन – कॉमिक्स इंडिया की नई पेशकश

दोस्तों कॉमिक्स इंडिया लेकर आ रहा है जल्द ही एक नई कॉमिक्स जिसका नाम है ‘लॉकडाउन’ (Lockdown). ये कोरोना योद्धाओं को सम्मान प्रदान करने के हेतु बनाया जा रहा है. इसके माध्यम से हमारे देश के सैकड़ों कोरोना वारियर्स को बल मिलेगा और उनके अथक परिश्रम एवं योगदान की कहानी को हजारों लोगों तक पहुँचाया जाएगा. इस कॉमिक्स से अर्जित की गई धनराशी का कुछ भाग कॉमिक्स इंडिया हेल्पिंग हैंड्स को भी जायेगा.

हेल्पिंग हैंड्स के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये – कॉमिक्स इंडिया हेल्पिंग हैंड्स

‘लॉकडाउन’ हिंदी कॉमिक्स में अपने जैसी एकलौती और अनोखी होने वाली पहली कॉमिक्स है. जी हाँ ये बेहद ही ‘क्लेक्टिबल’ यानि की संग्रहयोग्य कॉमिक्स बनने वाली है. इसके चित्रकार है श्री ‘ललित कुमार सिंह’ जी, जिन्हें आज भी कॉमिक्स प्रेमी एवं पाठक उनके राज कॉमिक्स में किये गए कार्य ‘गुरु भोकाल’ के कारण याद करते है. उनके लाइन आर्ट्स बेहद ही खूबसूरत होते है और इस बार वो कॉमिक्स इंडिया के अंतगर्त लेकर आएं है लेकर – ‘लॉकडाउन’.

लॉकडाउन 
कॉमिक्स इंडिया
लॉकडाउन
कॉमिक्स इंडिया
आर्टवर्क: ललित कुमार सिंह
खास तथ्य

लॉकडाउन कॉमिक्स में ना कोई कलरिंग होगी और ना ही कोई इंक्स होंगे, मूल रूप से ये मात्र ‘पेंसिल वर्शन’ होगा और ऐसा आज तक भारत में हिंदी कॉमिक्स में तो देखने को नहीं मिला है, 2 टोन, इंक्ड, फ्लैट कलर्स, ब्लैक एंड वाइट तो काफी छप चुकी है लेकिन सिर्फ पेंसिल वर्क के कवर और अंदर के पृष्ठों के साथ आज तक कॉमिक्स बाइट की नज़र में तो कोई कॉमिक्स नहीं आई है. कॉमिक्स इंडिया के इस अनोखे पहल की कॉमिक्स बाइट भूरी भूरी प्रशंसा करता है और सभी कॉमिक्स पाठकों से आग्रह भी करता है की इस पहल में कॉमिक्स इंडिया का साथ जरुर दें.

लॉकडाउन कॉमिक्स का एक पृष्ठ
कॉमिक्स इंडिया
आर्टवर्क: ललित कुमार सिंह
लॉकडाउन कॉमिक्स का एक पृष्ठ
कॉमिक्स इंडिया
आर्टवर्क: ललित कुमार सिंह

जैसा की आप उपर दिए गये पृष्ठ में देख सकते है की पूरे पेनल्स पेंसिल वर्शन वाले ही है और यहाँ पर कोई भी कलर या इंक का इस्तेमाल नहीं किया गया है. यहाँ पर कॉमिक्स इंडिया का ‘इन हाउस‘ सुपरहीरो ‘दक्षक‘ बच्चों के साथ किसी चर्चा में सम्मलित है और उन्हें कुछ समझाते नज़र आ रहा है. ललित जी के बेजोड़ आर्टवर्क ने तो चित्रों में गजब की खूबसूरती प्रदान की है.

पेंसिल वर्शन

भारत में सामान्य रूप से ऐसे कॉमिक्स के वर्शन देखने को नहीं मिलते, अलबत्ता विदेशों में ये बहोत ‘संग्रहणीय’ है. पिछले साल ‘एमआरपी बुक शॉप‘ ने एक ऐसी ही कॉमिक्स – ‘डैन डेयर‘ (वर्जिन कॉमिक्स) का बहोत ही संग्रहणीय अंक (सैन डीएगो कॉमिक कॉन 2008) का अपने ग्राहकों को खरीदने का मौका दिया था, पूरे विश्व में उसके मात्र 250 प्रतियाँ ही छापी गई थी. ऐसा कुछ अपने देश की कॉमिक्स पब्लिकेशन हाउस द्वारा देखना बेहद सुखद है. पेश है डैन डेयर की एक झलक.

डैन डेयर (वर्जिन कॉमिक्स)
एमआरपी बुक शॉप
डैन डेयर’ (वर्जिन कॉमिक्स)
एमआरपी बुक शॉप

कॉमिक्स जगत की अपडेट्स के लिए जुड़े रहिये कॉमिक्स बाइट से, आभार!

भारत के कॉमिक्स इतिहास को रेखांकित करती अंग्रेजी भाषा में ‘Adventure Comics and Youth Cultures in India’ को यहाँ से खरीदियें – अमेज़न लिंक

Adventure Comics and Youth Cultures in India
Adventure Comics and Youth Cultures in India

कॉमिक्स इंडिया के तीसरे सेट की कुछ कॉमिक्स – जम्बू सीरीज कवर्स (तुलसी कॉमिक्स / कॉमिक्स इंडिया) –

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

2 thoughts on “लॉकडाउन – कॉमिक्स इंडिया की नई पेशकश

  • July 19, 2020 at 12:05 am
    Permalink

    बहुत ही अच्छा आर्टिकल!!

    Reply
    • July 19, 2020 at 1:47 am
      Permalink

      हार्दिक धन्यवाद राहुल जी

      Reply

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: