कॉमिक्स समीक्षा: बाॅक्सर (स्टारमार्क काॅमिक्स) – (Comics Review – Boxer – Starmark Comics)

अनादि अभिलाष

अनादि अभिलाष (Anadi Abhilash) जी का ताल्लुक ‘कोयला नगरी’ धनबाद, झारखंड के एक मध्यमवर्गीय परिवार से हैं । हालांकि इनकी प्रारंभिक शिक्षा, हाई स्कूल और +2 की शिक्षा झारखंड के ही सिमडेगा, जमशेदपुर और रांची से हुई । राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दुर्गापुर से बी.टेक की डिग्री प्राप्त की और मुंबई में कार्यरत हैं । काॅलेज के दिनों से ही राष्ट्रीय स्तर पर नाटक, नुक्कड़ करते आए हैं और मुंबई में विहंगम थियेटर ग्रुप से जुड़े हुए हैं ‌। स्वरदीपिका नाम से इनकी एक प्राॅडक्शन वेंचर भी कार्यशील है । बचपन के दिनों से ही काॅमिक्स में विशेष रूचि है और भारतीय काॅमिक्स इंड्रस्टी के उत्थान के लिए कुछ कर गुजरना चाहते हैं और प्रयासरत भी हैं । इनका मानना है कि अगर आप और हम मिलकर संकल्प लें तो भारतीय काॅमिक्स इंड्रस्टी बुलंदियों को छू सकती है ।

Space
कॉमिक्स समीक्षा: बाॅक्सर (स्टारमार्क काॅमिक्स) – (Comics Review – Boxer – Starmark Comics)

साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित श्री शीर्षेन्दु मुखोपाध्याय के उपन्यास “बाॅक्सर रतन” पर आधारित है स्टारमार्क द्वारा प्रकाशित ग्राफिक नाॅवेल “दी बाॅक्सर” ।

Boxer - Starmark - Comics
The Boxer – Starmark
कहानी (Story)

कहानी सभी वर्गों के पाठकों के लिए लिखी गई है, कहानी बाॅक्सर रतन और उनके वैज्ञानिक पिता के इर्द गिर्द घूमती है । कहानी में एक्शन के साथ सस्पेंस भी है । बाॅक्सिंग रिंग, वैज्ञानिक प्रयोगशाला या तहकीकात – कहानी का हर हिस्सा पाठकों को बांधे रखता है ।

Boxer - Starmark - Comics
The Boxer – Starmark
टीम (Team)

श्री शीर्षेन्दु मुखोपाध्याय के इस कहानी की पटकथा और चित्रांकन पर काम किया है श्री सरबजीत सेन ने, शब्दांकन किया है अरुंधति गुप्ता जी ने । कहानी में सहयोग दिया है श्री उपमन्यु भट्टाचार्य ने और तकनीकी सहयोग है श्री अपराजिता मजुमदार का ।

संक्षिप्त विवरण

प्रकाशक : स्टारमार्क
पेज : 66
पेपर : ग्लॉसी
मूल्य : 225/-
कहां खरीदें : फ्लीपकार्ट, एमेजन

Boxer - Starmark - Comics
The Boxer – Starmark

निष्कर्ष : बाॅक्सर शीर्षेन्दु मुखोपाध्याय की अनुपम कृति है, सरबजीत सेन के द्वारा की गई काॅमिक्स रूपांतरण बेहतरीन है । चित्रांकन व रंगसज्जा डिजिटल कम और हाथ से की गई ज्यादा मालूम पड़ती है । डिजिटल युग में ऐसा काम दिखे तो और क्या चाहिए । शीर्षेन्दु मुखोपाध्याय जैसे लेखक की कहानियां ज्यादातर बंगाल तक ही सीमित है । इस ग्राफिक नाॅवेल को अपने संग्रह का हिस्सा बनाकर ऐसे प्रतिभाशाली लेखकों को समर्थन अवश्य दें ।

अवलोकन पृष्ठ (Preview Pages)

Purchase Links For Comics & Magazines

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!