भूतनाथ (Bhoothnath)

दोस्तों आज हम प्रस्तुत है नूतन चित्रकथा के सुपर हीरो भूतनाथ को लेकर, नूतन चित्रकथा 70 से 80 के दशक तक कॉमिक्स इंडस्ट्री में टिकी रही, उनके काफी सारे प्रमुख किरदार भी रहे जैसे मेघदूत, अमर अकबर, मामा जी, छुटकी, राका एवं “भूतनाथ“(Bhootnath). वैसे तो भूतनाथ का अर्थ होता है भूतों का स्वामी और वो कौन है हम सब अच्छी तरह से जानते है और अगर आपको नहीं पता तो मैं बता देता हूँ, वो है हमारे आराध्य, सबके प्रिय – ‘महादेव शिव शम्भू‘. वैसे इस किरदार पर कालजयी उपन्यासकार ‘बाबु देवकीनंदन खत्री’ जी का भी पात्र है जिसे हम चन्द्रकान्ता संतति में पढ़ या देख चुके है वो ऐयारो में सबसे श्रेष्ठ है और उसके काम करने के तरीके भी अलग है. नूतन कॉमिक्स में बस किरदार का नाम ही ‘भूतनाथ’ है, बाकी उपर कही गई एक भी विशेषता उनमें नहीं है, ये एक जासूस है जो अक्सर अपराधियों को पकड़ने की फ़िराक में रहता है, अपराध और अपराधियों को रोकना ही भूतनाथ का एकमात्र उद्देश्य है.

भूतनाथ के चेहरे पर मास्क है, वो लबादा भी पहनते है. वें अक्सर अपनी मोटरसाइकिल से अपराधियों का पीछा करते है और कई बार हथियार के नाम पर एक तलवार और ढाल उनके पास दिखाई देती है, कभी वो बंदूक का प्रयोग भी कर लेते है मतलब परिस्थिथि के हिसाब से खुद को ढाल लेते है. भूतनाथ बेहद बलशाली और ताकतवर हैं, अपने तेज़ और शातिर दिमाग की बदौलत वो अपराधियों और बदमाशों को हमेशा पकड़ लेते है. पर हमेशा उनका पाला मात्र अपराधियों से नहीं पड़ता था, अपने कई मिशन पर उन्हें आदमखोर, डाकू और भूत-प्रेतों से भी निपटाना पड़ा पर जैसा उनका नाम है ‘भूतनाथ’, इन सारे मिशन्स में हमेशा विजेता वो ही रहे.

मैडक्लिक्स

नूतन के भी तीन वर्गीकरण थे – पहला नूतन चित्र कथा (Nutan Chitra Katha) का, दूसरा नूतन कॉमिक्स (Nutan Comics) का और तीसरा नूतन चित्रकथा डाइजेस्ट (Nutan Chitra Katha Digest) का. भूतनाथ नूतन चित्रकथा का सबसे चर्चित किरदार था और नूतन ने बड़े साइज़ में इनके कुछ कॉमिक्स भी प्रकाशित किये थे. भूतनाथ के कवर आर्टिस्ट थे मंजीत जी और कॉमिक्स के अंदर भी इन्हीं का चित्रांकन दिखता था. लेखक के रूप में कार्य किया नरेश भाटिया जी, विनोद कुमार शर्मा जी ने. संपादक के तौर पर कभी सुमित प्रसाद जैन जी रहे या कभी त्रिशाला जैन, नूतन कॉमिक्स अक्सर सम्पादकीय लेख त्रिशाला जी ही लिखा करती थी और प्रकाशक थे संजीव जैन जी. कुछ कॉमिक्स के मुख्य आवरण आप लोगों के नीचे संलग्न कर रहा हूँ.

भूतनाथ की पहली कॉमिक्स थी “भूतनाथ और चक्रव्यूह” और अपने समय में भूतनाथ का कोई मुकाबला नहीं था, मेरे काबिल मित्र और कॉमिक्स कलेक्टर श्री मनोज पांडे जी के अनुसार

भूतनाथ इतना प्रसिद्ध था की उतना शायद उस समय कोई दूसरा चरित्र नहीं था, जब प्रकाशक 32 पृष्ठ की कॉमिक्स निकलने से डरते थे उस समय भूतनाथ की 48 पृष्ठों की बड़ी आकार की कॉमिक्सें निकली गई थी जो की खूब बिकी भी, दूसरे प्रकाशकों में सिर्फ मनोज कॉमिक्स ने “खुनी दानव” नाम की सिर्फ एक ही कॉमिक्स निकली थी जो की इससे ज्यादा पृष्ठों की कॉमिक्स थी और इस चरित्र की कॉमिक्स से ज्यादा बिकी थी, उस दौर में बाकी किसी और प्रकाशक ने उस समय इस आकार की कॉमिक्स छापने का साहस ही नहीं किया था”

– मनोज पांडे भूतनाथ और नूतन कॉमिक्स पर अपनी राय प्रकट करते हुए

अब बात करें आज की तो ‘राज कॉमिक्स‘ ने कुछ साल पहले भूतनाथ के साथ अन्य नूतन कॉमिक्स के किरदार भी खरीद लिए थे और ये पता चला था की भूतनाथ का फिर से प्रवेश होने जा रहा है कॉमिक्स यूनिवर्स में और भूतनाथ फिर से राज कॉमिक्स की सर्वनायक श्रृंखला में दिखाई पड़ने वाला है, यहाँ आपको बता दूँ की तौसी (तुलसी कॉमिक्स का पात्र) भी सर्वनायक श्रृंखला में दिखाई दे सकता है. किंग कॉमिक्स के पात्र वैसे भी अपनी उपस्तिथि दर्ज करा चुके है. नीचे देखिये भूतनाथ का आर्टवर्क राज कॉमिक्स के सौजन्य से.

भूतनाथ – सर्वनायक सीरीज से
आर्टवर्क: हेमन्त कुमार जी
साभार: राज कॉमिक्स

कोशिश की है सभी सूत्रों को एक धागे में पिरोने की, उम्मीद है आपको भूतनाथ का ये करैक्टर बायो पसंद आया होगा, आभार – कॉमिक्स बाइट!

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

2 thoughts on “भूतनाथ (Bhoothnath)

  • May 3, 2020 at 7:01 pm
    Permalink

    Rochak jankari… Shukria

    Reply
    • May 3, 2020 at 7:45 pm
      Permalink

      हार्दिक धन्यवाद दीपक जी

      Reply

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: